Author: Nutej Bhathothia

ख्वाहिश़

महज बातों से ही
बरगलाने की कोशिश ना
किया कीजिए
कभी ख्वाहिश मिलने की भी
कर लिया कीजिए

Read More
खामोशी

दिल में राज दबाएं बैठे है
जज़्बात छुपाएं बैठे हैं
तुम कहांँ पढ़ पाओगे
खामोशी मेरी
हम तो खामोशी ही मिटाएं बैठे हैं

Read More
वक्त

तकाजा वक्त को है

गुजर जाने का

मेरा क्या है मेरी तो सांसे है

जो मेरी जिंदगी की उम्र के

ठहराव पर आकर खत्म हो जायेेगी

और रह जायेगी सिर्फ मेरी यादें

 

Read More
कर्तव्य

अदब के परदे में रहना

बेटियों को सिखाओं तो

तहज़ीब की चादर में रहना

बेटों को भी सिखा दिया करो

बुढ़ापा काटने में आसानी होगी

Read More
X
WhatsApp WhatsApp us