Author: Samar Aryan

चाय – हर हिंदुस्तनी का पहला प्यार

चाय – हर हिंदुस्तानी का पहला प्यार❤️
_________________________________
थोड़ी सी कड़क, थोड़ी सी लाल
और जो ही मिलाया इसमें
चीनी स्वाद अनुसार
तो हो गई तैयार
हर हिन्दुस्तानी का पहला प्यार।
इसकी हर चुस्की में है चुस्ती
हर काम को जो बना दे मजेदार
यही है वो अचूक हथियार।
हर जगह जो मिल जाए आसानी से
कुछ ऐसा ही है ये सामान
बच्चे हो या बूढ़े सब पीते हैं इसको
नहीं है इसमें कोई नुकसान।
है मेहाननवाजी पर भी
इसका सर्वप्रथम अधिकार
इसके बिना अधूरा है हिंदुस्तान में
जस्न का हर स्थान।
कभी दोस्तों के मिलने का
बहाना बन जाता है ये
तो कभी बात को आगे बढ़ाने
का सहारा बन जाता है ये।
अब तो बन चुका है ये
हिंदुस्तान का ये स्वाभिमान
प्रधानमंत्री से लेकर हर हिंदुस्तानी की
है ये आनोखी पहचान। 🙏

 

Read More
जो वो मेरी थी ❤️..

जो वो मेरी थी….❤️

जो वो मेरी आंखों की चमक थी,
तो मैं भी तो उसके आंखों का काजल था
जो वो जुल्फ थी
तो मैं भी तो उसके जुल्फों का बादल था
जो वो मेरी हंसी थी
तो मैं भी तो उसके गालों की लाली था।

जो वो मेरी हाथों की लकीर थी
तो मैं भी तो उसका कंगन था
जो वो मेरी संगीत थी
तो मैं भी तो उसकी कंगन का झंकार था।

जो वो मेरी रात थी
तो मैं भी तो उसका सुबह था
जो वो मेरी नींद थी
तो मैं भी तो उसका ख्वाब था।

जो वो मेरी रातों की करवट थी
तो मैं भी तो उसकी सुबह की आंगराई था
जो वो मेरी चाय थी
तो मैं भी तो उसका मिठास था।

जो वो मेरी हिम्मत थी
तो मैं भी तो उसका सहारा था
जो वो मेरी mona the
तो मैं भी तो उसका darling tha।

जो वो मेरी प्रेमिका थी
तो मैं भी तो उसका प्रेमी था
और जो वो सिर्फ मेरी थी
तो मैं भी तो सिर्फ उसका था।❤️

Read More
मेरी अधूरी कहानी…❤️

मेरी अधूरी कहानी…❤️
_________________

मुझे आज भी बख़ूबी याद है college का वो दिन जब मैंने पहली बार तुम्हें देखा था…
कोने में कैद, खुद में खोई हुई, भीड़ से अलग…
उस दिन मैंने तुम्हें नहीं ,तुम में ख़ुद को देखा था। शायद इसलिए उस दिन ही तुमसे प्यार हो गया था।

वैसे तो सुबह की नींद मुझे बहुत प्यारी थी, मगर उस दिन के बाद से अक्सर तुम्हारा चेहरा खयालों में मुझे जागने के लिए मजबूर कर देता था। शायद अब मैं बदल गया था,

Read More
X
WhatsApp WhatsApp us